ब्लॉग प्रसारण पर आप सभी का हार्दिक स्वागत है !!!!

वैसे तो इस तरह के तमाम ब्लॉग उपलब्ध हैं जिनमें से कुछ काफी प्रसिद्ध हैं. इस ब्लॉग को शुरू करने का हमारा उद्देश्य कम फोलोवर्स से जूझ रहे ब्लॉग्स का प्रचार करना एवं वे लोग जो ब्लॉग बनाना चाहते हैं परन्तु अज्ञान वश बना नहीं पाते या फिर अपने ब्लॉग का रूप, रंग ढंग नहीं बदल पाते उनकी समस्या का समाधान करना भी है. परन्तु यदि नए ब्लॉग नवीनीकरण (अर्थात update ) नहीं होंगे उनके लिंक नहीं लगाये जायेंगे उनकी जगह अन्य लिनक्स को स्थान दिया जायेगा. साथ ही साथ प्रतिदिन एक या दो विशेष रचना "विशेष रचना कोना' पर प्रस्तुत की जायेंगी और "परिचय कोना" पर परिचय भी दिया जायेगा. ब्लॉग में किसी भी तरह की समस्या को इस पते पर लिख भेजें : blogprasaran@gmail.com समाधान हेतु यथासंभव प्रयास किया जायेगा....

नोट : सभी ब्लॉग प्रसारण कर्ता मित्रों से अनुरोध है कि वे अपने पसंद के सीमित लिंक्स अर्थात अधिकतम (10-15) ही लिंक्स लगायें ताकि सभी लिंक्स पर पहुंचा जा सके.


मित्र - मंडली

पृष्ठ

ब्लॉग प्रसारण परिवार में आप सभी का ह्रदयतल से स्वागत एवं अभिनन्दन


Thursday, August 29, 2013

ब्लॉग प्रसारण : शतकीय अंक

 नमस्कार मित्रों,

ज के इस १००  वें (शतकीय) प्रसारण  में आप सभी का मैं राजेंद्र कुमार आपका हार्दिक स्वागत करता हूँ।यह शतकीय सफर आप सब के शुभकामनाओं  और प्रसारण कर्ता मित्रों के सहयोग से ही पूरा हो पाया है।  एक बार फिर मैं अपनी पसंद के कुछ चुनिंदा लिंक्स लेकर आपके समक्ष उपस्थित हुआ हूं।आशा है आप सब पहले की ही तरह अपना स्नेह बनाये रखेंगे और प्रसारण के दोहरे शतक की कामना करेंगे ,तो आइये एक नजर डालते है आज के इस शतकीय प्रसारण की तरफ.…… 


प्रवीन मलिक 
माथे पे जिसके मोर पंख सजे
होंठों पर जिसके सजती है मुरलिया

विनीत वर्मा 
श्रीकृष्ण जन्मोत्सव पूरे देश में धूमधाम से मनाया जा रहा है| मंदिरों में भगवान श्रीकृष्ण के जन्मोत्सव की भव्य झांकियां सजाई गई हैं। 

रेखा जोशी 
माखनचोर
गोकुल का दुलारा
नंदकिशोर

सुन्दर मुख
राधिका का कन्हैया
मनमोहन

अरुण कुमार निगम 
मंडी की छत पर चढ़ा , मंद-मंद मुस्काय
ढाई आखर प्याज का, सबको रहा रुलाय ||




रश्मि प्रभा...
फिर आया वह दिन 
जब मैं निमित्त बन 
माँ के गर्भ से निकल 

मनोज जैसवाल
'आइये जानते है घर भूल गए हैं मोबाइल तो कैसे पढ़े अपने मैसेज' हम में से ज्यादातर के साथ कभी न कभी ऐसा ज़रूर हुआ होगा। घर से निकलने के बाद याद आया कि मोबाइल फोन घर पर छूट गया। कई बार दफ्तर पहुंचने पर यह बात याद आई, सो वापस घर लौटा भी न जा …… 

सरिता भाटिया 
आई है जन्माष्टमी , धूम मची चहुँ ओर 
जन्मदिन मनाओ सखी, मनवा नाचे मोर || 

विष्णु जी बाद आठवें ,कृष्ण हुए अवतार 
ब्रज भूमि अवतरित हुए, दिया कंस को मार ||
आप सभी को जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं

आनन्द पाठक

चार दिन की ज़िन्दगी से चार पल हमने चुराये
मिलन के पावन क्षणों में,दूर क्यों गुमसुम खड़ी हो ?

जानता हूँ इस डगर पर हैं लगे प्रतिबन्ध सारे
और मर्यादा खड़ी ले सामने अनुबन्ध सारे

मन की जब अन्तर्व्यथा नयनों से बहने लग गईं
तो समझ लो टूटने को हैं विकल सौगन्द सारे 

ऋता शेखर 'मधु'
'भगिनी का सुत काल है’, सुनकर सिहरा कंस।
शिशु वध करने के लिए, भाई बना नृशंस।।

क्रांत ऍम. एल. वर्मा 

सैलाब के स्वरों में, सब शहर बाँटते हैं !
अश्लील छप्परों में, दोपहर काटते हैं !!


!

(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')
धूल भरी क्यों आज गगन में?
क्यों है अँधियारा उपवन में?

राजेश  कुमारी जी 
चोरी का बुना जाल ,फंस गए नन्द लाल 
देख दधि मटकी हाल , हुई मैया बेहाल

सरस 
राधा के महावरी पांवों को-
माधवने माथे धारा था
तब रुक्मिणी औए सत्यभामा से भी
ऊँचा स्थान दे डाला था -

ताऊ रामपुरिया
ताऊ और रामप्यारी के साथ "दो और दो पांच" खेलते सुनीता शानू


पूनम 
एक खुशी तुझसे मिलने की..
एक गम तेरे बिछड़ने का..
था एक दर्द रोने का..

आमिर दुबई 
डियर रीडर्स , इंटरनेट की दुनिया में नित रोज नए नए वेब ब्राउजर्स आते ही रहते हैं। इससे पहले भी मैंने आपको 

सुशील  कुमार जोशी 
कृष्ण जन्माष्टमी 
हर वर्ष की तरह 
इस बार भी आई है 
आप सबको इस 
पर्व पर बहुत 
बहुत बधाई है

गगन शर्मा 
श्री राम ने बारह कलाओं के साथ अवतार लिया था. श्रीकृष्ण जी ही अब तक सोलह कलाओं के साथ अवतरित हुए हैं। इसीलिए उनके अवतार को संपूर्ण तथा सर्व गुण संपन्न अवतार माना जाता है.

अक्षिता यादव (पाखी)
आज का दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है। आज कृष्ण जन्माष्टमी है। आज ही तो देर रात माखन चोर श्री कृष्ण का जन्म हुआ था. कृष्ण जी की बाल- लीलाएं तो मुझे 
 वन्दना तिवारी 
त्याग,प्रेम अवतार श्याम
प्रेम रीति तो सिखाइये।
बृज-गोपियों सा त्याग रस
कलिकाल में भी डालिये।।
~~~~~~~~~~~~~ 
कृष्णा वर्मा/पुष्पा मेहरा 
जन्मे हैं श्याम
नाच रहे हैं मोर
करें भेंट वे पंख,


आज के प्रसारण को यहीं पर विराम देते हैं,इसी के साथ मुझे इजाजत दीजिये,मिलते हैं फिर से एक नए उमंग के साथ अगले गुरुवार को कुछ नये चुने हुए प्यारे लिंक्स के साथ, जय श्रीकृष्ण जी

31 comments:

  1. पूरी लिंक्स कृष्ण मय होगीं |जय श्री कृष्ण |
    आशा

    ReplyDelete
  2. शत की शत शुभकामनायें..सुन्दर सूत्र..

    ReplyDelete
  3. ब्लाग प्रसारण का 100 वाँ अंक है
    सतरंगी सूत्रों से भरपूर है
    जय श्रीकृष्ण उदघोष सा करता है
    आभारी है 'उल्लूक टाईम्स'
    राजेन्द्र कुमार जी का
    'मैने नहीं पढी़ है क्या आप के पास गीता पडी़ है'
    भी दिखता है कहीं पर
    हीरों के बीच जैसे कोयला
    भी एक कहीं निखरता है !




    ReplyDelete
  4. आपकी बहुत सुंदर प्रस्तुतियों के साथ इस शतकीय संस्करण पर मेरी बहुत-बहुत हार्दिक शुभकामनायें व बधाई......

    ReplyDelete
  5. शतकीय प्रस्तुति पर बहुत बहुत बधाई !!

    @ संजय भास्कर

    ReplyDelete
  6. शतकीय अंक पर हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें स्वीकार करें !

    ReplyDelete
  7. शुभकामनायें -
    आप सभी को-

    ReplyDelete
  8. शतकीय अंक पर हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें स्वीकार करें !

    ReplyDelete
  9. शतकीय अंक पर हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें बहुत सुन्दर प्रसारण


    हिंदी ब्लॉग समूह चर्चा-अंकः8

    ReplyDelete
  10. शतक लगाया आपने
    शुभकामनाएँ हैं आज
    उन्नति करो खुश रहो
    नित करो नए आगाज
    'सरिता' की तरह
    अरुण चलते ही रहना
    रुकावटें हटाकर
    तुम बढ़ते ही रहना

    ReplyDelete
  11. शतकीय अंक पर हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें स्वीकार करें !

    ReplyDelete
  12. अच्छे सूत्रों से सजा सुन्दर प्रसारण !!

    ReplyDelete
  13. शतकीय अंक पर हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें स्वीकार करें !

    ReplyDelete
  14. pushpa mehra 29 agast,2013


    aap ko shatkiya ank prasaran ki hardik badhaaiyan aur shubh kamanayen. aap ne mera sedoka "aaye hain Ghanshyam" ko
    appane shatkiye ank prasaran mein sthan diya-prassanta hui. dhanyavaad.

    ReplyDelete
  15. अच्छे सूत्रों से सजा सुन्दर प्रसारण !!शतकीय प्रस्तुति पर बहुत बहुत बधाई !!

    ReplyDelete
  16. शतकीय अंक पर हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें, अच्छे सूत्रों से सजा सुन्दर प्रसारण।

    ReplyDelete
  17. शतकीय अंक पर हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनायें स्वीकार करें !

    ReplyDelete
  18. शतकीय पारी की बधाई ...

    ReplyDelete
  19. शतक में कृष्ण के साथ मैं - वाह

    ReplyDelete
  20. ब्लाॅग बुलेटिन पर कमेन्ट के अलावा आप, ब्लाॅग बुलेटिन को ट्विटर, फेसबुक, गूगल और अपने मित्रों के ईमेल पते पर शेयर करोगे तो ब्लाॅग बुलेटिन के रचनाकार का उत्साह बढ़ेगा एवं अधिक से अधिक लोग बुलेटिन पढ़ेगे ।
    मैं यह निवेदन इसलिए कर रहा हॅंू क्योंकि बुलेटिन निर्माणकर्ता आपसे संकोचवश ऐसा न कह पायें । ब्लाॅग बुलेटिन के लिए बधाई ।

    ReplyDelete
  21. वाह अप्रितम शतकीय अंक वाकई ह्रदय स्पर्श कर गया हार्दिक आभार आदरणीय राजेंद्र भाई जी, ब्लॉग प्रसारण का सौभाग्य है कि इसे आप सभी परिश्रमी एवं लग्नशील मित्रों का सहयोग प्राप्त हो सका है. ह्रदयतल से हार्दिक आभार आदरणीय राजेंद्र भाई जी.

    ReplyDelete
  22. बधाई स्वीकारे...बहुत सुन्दर लिंक्स..

    ReplyDelete
  23. bahut sunder ank hai, krishnamay ho gaya sansar.

    shubhkamnayen aise hi kai shatakon ke liye.

    ReplyDelete
  24. सौवीं पोस्ट की बधाई...प्रसारण यूँ ही चलता रहे...शुभकामनाएँ...आभार !!

    ReplyDelete
  25. आज शतकीय अंक तक पहुंचने के लिए आपको ढेरों बधाइयां आदरणीय!
    मुझे भी इस णंक में स्थान देने के लिए आपका बहुत आभार।
    सादर

    ReplyDelete
  26. shatak pura huya .. dhero badhayiya .. sundar links sajaya apne .. kahi rochak koi labhprad .. kuchh bhakti bhaw bhare .. :) badhayi

    ReplyDelete
  27. बहुत सुन्दर लिंक्स मुझे स्थान देने के लिए आपका बहुत आभार,शुभकामनाएँ

    ReplyDelete
  28. शतकीय अंक की बहुत बधाई! मुझे
    इस अंक में स्थान देने के लिए बहुत आभार!

    ReplyDelete
  29. बेहतरीन शतक में मेरी रचना को स्थान देने के लिए हार्दिक आभार .....
    शतकीय अंक की ढेरों बधाई !!!

    ReplyDelete
  30. ब्लॉग प्रसारण परिवार को शतकीय अंक की शुभकामनायें.....................
    मुझे भी इस अंक में सम्मिलित करने हेतु हृदय से आभार............

    ReplyDelete